ब्रेकिंग-न्यूज़विशेष

EXLUSIVE: मंदिर के बाहर चल रहा बच्चों से भीख मंगवाने का कारोबार

चाइल्ड हेल्प लाइन ने किया रेस्क्यू, सभी नाबालिक बच्चे

 

 

शिमला के प्राचीनतम कालीबाड़ी मंदिर के  बाहर बच्चों से भीख मंगवाने का कारोबार चल रहा है। बच्चे  रोज सुबह आते है और अपनी मासूम शकल दिखाकर कर  अपने अकेले रहने के बारे में बताते है।  जिस पर लोगों का दिल पसीज रहा है और मज़े उनके अभिभावक ले रहे है। अभिभावकों द्वारा बच्चों को गंदे कपड़ों के साथ शिमला के कालीबाड़ी मंदिर के बाहर जाने के लिए कहा जाता है।जिसके बाद उनके अभिभावक बच्चों से भीख मांगने के पैसे से घर चलाते हैं कई अभिभावक  तो घर पर ही दिन भर बेकार बैठे रहते हैं। और अपने बच्चों से पूरा ब्योरा भीख में मिली राशि का मांगते हैं। जो बच्चे पकड़े गए हैं उसमें उनकी एक माता भी रेस्क्यू की गई है जिसमें उसने यह बताया है कि उसके पति के मर जाने के बाद वह बच्चे से ही भीख मंगवाने का कारोबार करते हैं।

शिमला के कालीबाड़ी मंदिर के बाहर  चार नाबालिक बच्चे भीख मांगते पकड़े गए हैं। जिनका 

8bfbe582-db1b-4942-86ba-ba25886dcd23

रेस्क्यू किया गया है। चाइल्ड लाइन के कॉर्डिनेटर वीरेंद्र का कहना है। कालीबाड़ी मंदिर के पास बच्चो के भीख मांगने की शिकायत आई थी। जिस पर कार्रवाई करते बच्चों का रेस्क्यू किया गया है।चार बच्चों का रेस्क्यू किया गया है।

 

  जो तारादेवी के झुग्गियों के रहने वाले बताए जा रहे है।  ये रोज़ मंदिर के बाहर बैठ रहे थे। 

रेस्क्यू टीम में एएचटीयू प्रदीप, योगराज,शामिल थे। एएसआई प्रदीप ए एच टी यू  भी शामिल थे। बच्चों को सीडब्ल्यूसी के सामने समक्ष पेश किया जाएगा।

 

बॉक्स

होगी कार्रवाई

बार-बार लोगों को जागरुक करने के बावजूद भी कई  लोग अपने बच्चों को भीख मंगवाने का काम कर रहे हैं जो नियम विरुद्ध है जिस पर कड़ी से कड़ी कार्रवाई की जाएगी।

बॉक्स

होती है हैरानी

अभिभावकों के तहत अपने ही बच्चों को अपनी मासूमियत दिखाकर भीख मंगाने का कारोबार करवाना हैरानी भरा है। जिस पर अब प्रशासन और सख्ती करने वाला है।

Related Articles

Back to top button
English English Hindi Hindi
Close