ब्रेकिंग-न्यूज़शिक्षास्वास्थ्य

खास खबर : अब हिमचल के कैदियों के टीबी रोग पर रहेगी नजर

अब हिमाचल में कैदियों की टीबी बीमारी पर भी स्वास्थ्य विभाग नजर रख पाएगा। जिसमें एनएचएम के तहत  टेस्ट करवाने की सुविधा प्रदेश के कारागार में उपलब्ध करवाने जा रहा है। इसमें टीबी मुक्त हिमाचल को मजबूती मिलेगी। इन लैब्स के माध्यम से समय समय पर कैदियों कि टीबी जांच हो पाएगी। चार कारागारो में सूक्ष्म दर्शी जांच केंद्र स्थापित किए जाएंगे।
इस वर्ष नए पहचाने गए 10206 टीबी रोगी
कोरोना के इस दौर में हिमाचल में टीबी रोगियों की पहचान का ग्राफ भी कम हुआ है। जिसमें इस वर्ष 10206 टीबी रोगी मरीज पहचाने गए है। रोगियों का ये ग्राफ गिरा भी हुआ है। जिसमें वर्ष 2019 में 17406, वर्ष 2018 में 17406, वर्ष 2018 में 16862 और वर्ष 2016 में 14333 टीबी मरीजों की पहचान की गई थी। लेकिन कोविड के दौरान खासकर लॉक डाउन के दौरान मरीजों कि पहचान नहीं हो पाई और जिसके कारण  कुछकुछ प्रभा मौत के आगोश में भी चले गए। लेकिन अब इस अभियान को और गंभीरता से चलाया जा रहा है। जिसमे कैदियों कि जांच इसमें मुख्य तौर पर शामिल की गई है।

No Slide Found In Slider.

Related Articles

Back to top button
English English Hindi Hindi
Close