शिक्षा

भर्ती एवं पदोन्नति नियम के आधार पर ही भरें जाए उप निदेशक के पद

उप निदेशक का पद राज्य स्तर का होता है , जिला स्तर पर नियुक्ति की मांग हास्यास्पद

 

मुख्याध्यापक संवर्ग अधिकारी संघ जिला शिमला ने उप निदेशक के पदों को वरिष्ठता के आधार पर भरने की मांग की है । वर्तमान में उप निदेशक के मुख्याध्यापक कोटे से 22 पद एवं प्रवक्ता कोटे से 4 पद खाली चल रहे हैं । नियमों के अनुसार ही इन पदों पर नियुक्ति दी जाए । मुख्याध्यापक संवर्ग अधिकारी संघ की जिला शिमला इकाई के प्रधान संजीव शर्मा एवं सचिव सुनील शर्मा ने कहा है कि इस बारे में शीघ्र ही मुख्यमंत्री एवं शिक्षा मंत्री से मांग की जाएगी । भर्ती एवम् पदोन्नति नियमों में किसी भी छेड़छाड़ का विरोध किया जायेगा । मुख्याध्यापक कोटे से बने उप निदेशक बहुत कम समय में ही सेवानिवृत हो जाते हैं इसलिए अधिक पद खाली रहते हैं । मुख्याध्यापक से सेवानिवृत हुए पद पर मुख्याध्यापक कोटे का व्यक्ति ही बैठ पाता है । यदि इसमें कोई छेड़छाड़ की गई तो इसका पुरजोर विरोध किया जायेगा ।

WhatsApp Image 2024-07-01 at 2.33.55 PM

उप निदेशक की पदोन्नति हेतु उच्च शिक्षा निदेशालय पहले ही पैनल भिजवा चुका है, उसी पैनल में से 22 मुख्याध्यापक कोटे के प्रधानाचार्यों को उप निदेशक का कार्यभार दिया जाए । किसी कनिष्ठ को ये चार्ज न दिया जाए , यदि ऐसा हुआ तो कनिष्ठ अधिकारी किसी वरिष्ठ की वार्षिक गोपनीय रिपोर्ट लिखेगा जो कि एक बहुत बड़ी प्रशासनिक भूल साबित होगी एवं पूरे प्रधानाचार्यों एवम मुख्याध्यापकों के लिए निरादर होगा । अतः उप निदेशकों की नियुक्ति केवल और केवल पदोन्नति नियमों के आधार पर 60:40 के अनुपात में की जाए।

Deepika Sharma

Related Articles

Back to top button
Close